पुलिस की आवाज टीम ने राधा-कृष्ण की प्रतिमा देकर किया सम्मानित

होम स्लाइडर

पुलिस की आवाज टीम ने राधा-कृष्ण की प्रतिमा देकर किया सम्मानित

जौनपुर/बदलापुर: - श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर पुलिस की आवाज संगठन की तरफ से कोतवाली बदलापुर के कोतवाल को जिला अध्यक्ष चंदन निगम ने राधा-कृष्ण की प्रतिमा देकर सम्मानित किया. अध्यक्ष चंदन निगम  ने बताया कि यह कैसा मात्र त्यौहार है जिसे पुलिस वाले पूरी धूमधाम से मनाते हैं. हिंदू धर्म में कई त्योहार मनाएं जाते हैं और सभी त्योहारों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी जाती है। जिसकी वजह से पुलिस के अधिकारी और कर्मचारी होली, दिपावली, दशहरा जैसे सभी त्योहार पर अपना कर्तव्य निभाते हैं और त्योहार की खुशियां नहीं ले पाते। लेकिन एक ऐसा त्योहार भी है जिसे देश के लगभग सभी थानों में जरुर मनाया जाता है। इस त्योहार के लिए महीनों से तैयारियां होती हैं। खास तौर पर मंदिर को भी सजाया जाता है. यहां तक की प्रसाद के लिए प्रत्येक पुलिस के जवान अपनी जेब से भी खर्च लगाते हैं। 
दरअसल द्वापर युग में जब कंस को भविष्यवाणी हुई की उसकी बहन यानी देवकी और वासुदेव का पुत्र उसकी की मृत्यु का कराण बनेगा तो कंस ने उन्हें कारागार यानी जेल में डाल दिया। इसके बाद देवकी और वासुदेव के जितने भी बच्चे हुए कंस नें सभी का वध कर दिया। लेकिन जब भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ तो ऐसा चमत्कार हुआ की जेल के सभी ताले टूट गए, दरवाजे अपने आप खुल गए। इतना ही नहीं जितने भी संतरी या सिपाही, द्वारपाल पहरे पर लगे थे सभी गहरी नींद में सो गए। श्री कृष्ण के इस माया की वजह से ही पुलिस थानों में हर साल जन्माष्टमी यानी कृष्ण जन्मोत्सव मनाती है। दरअसल बताया जाता है कि उस युग में जिस तरह कारागार था अब पुलिस जेल की पहरेदारी करती है और इस दिन जन्माष्टमी मना कर सभी पुलिसवाले भगवान कृष्ण से प्राथर्ना करते हैं कि उनके साथ इस तरह कभी कोई घटना घटित न हो जाए। इस मौके पर बदलापुर अध्यक्ष दीपक शुक्ला संगठन मंत्री आकाश चौरसिया मंत्री निशु सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे


Comment






Total No. of Comments: